इंडी महगठबंधन की प्रत्यासी की जीत की रणनीति को लेकर बैठक

VijaySharma
0

धनबाद -- धनबाद लोकसभा इंडिया महागठबंधन के कांग्रेस प्रत्याशी अनुपमा सिंह के लिए बेरमो विधायक अनूप सिंह ने रीजनल ऑफिस जामाडोबा राष्ट्रीय कोलयरी मजदूर यूनियन के पदाधिकारी कार्यकर्ताओं एवं सहयोगी दलों क्षेत्रीय नेताओं कार्यकर्ताओं समाज सेवा एवं अन्य गणमान्य लोगों के साथ विस्तृत रूप से चर्चा की एवं महागठबंधन की जीत सुनिश्चित करने के लिए रणनीति तैयार की 
धनबाद जिले के विशिष्ट एवं प्रबुद्ध जनों से मिलने के क्रम में  विजय झा, अशोक सिंह, सिंदरी के पूर्व विधायक फूलचंद मंडल उनके सुपुत्र धरणीधर मंडल  एवं उनके पार्टी के कार्यकर्ताओं से विशेष रूप में चर्चा की एवं महागठबंधन की जीत सुनिश्चित करने हेतु विस्तृत चर्चा की नावाडीह के रायल बाजार के पास आयोजित जनसभा को संबोधित किया झारखंड मुक्ति मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष रमेश टूडू से उनके आवास पर आयोजित जनसभा को संबोधित किया विस्तृत रूप चर्चा की और कहा भाजपा ने जन भावना का अनादर करते हुए धनबाद संसदीय क्षेत्र से ऐसी प्रवृत्ति के लोग को उतारा है जो झारखंड के निवासियों की जमीन हड़पने में विश्वास करता है, जो भाजपा सरकार की एम डी ओ नीति के तहत बीसीसीएल सहित कोल इंडिया को पूंजीपतियों के हवाले करने में सबसे बड़ा मददगार है। बीसीसीएल सहित बोकारो इस्पात कारखाना, सिंदरी फर्टिलाइजर जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ,,पंडित नेहरू, सरदार पटेल, सुभाष का सबसे बड़ा तोहफा था उसे पूंजी पतियों के हवाले सोॅपा जा रहा है। भाजपा के इस नीति के कारण आर्थिक राजधानी धनबाद को उजाडा जा रहा है ।
   दिवंगत मेरे पिता नेता और इंटक के पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री श्री राजेंद्र बाबू ने जीवन के अंतिम सांस तक धनबाद और झारखंड के मजदूर ,किसानों की सेवा की उसकी आवाज को बुलंद किया। कांग्रेस पार्टी के सर्वमान्य नेत्री सोनिया गांधी ,अध्यक्ष श्री खड़गे साहब, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके पुत्रवधु को इंडिया गठबंधन का प्रत्याशी घोषित किया ।धनबाद संसदीय क्षेत्र के मजदूर किसान नौजवान ने बराबर पूंजीवादी शक्तियों का विरोध किया है। राज्य और देश के विकास में अपने जीवन को समर्पित किया है। यह संसदीय चुनाव किसी व्यक्ति का नहीं बल्कि धनबाद की जनता के भाग्य का फैसला करेगा। धनबाद संसदीय क्षेत्र की जनता भाजपा की पूंजीवादी विनाशकारी सोच के खिलाफ इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी श्रीमती अनुपमा सिंह के समर्थन में जात बिरादरी धर्म और मजहब से ऊपर उठकर संकल्पित होकर श्रीमती अनुपमा सिंह को विजय बनाने के लिए तन मन धन से पूरी मुस्तैदी से लड़ रहे है ताकि धनबाद के हर तबके को लोगों के चेहरे पर खुशहाली रहे ।धनबाद की जनता रंगदारी, जमीन हड़पने, आर्थिक आतंक से मुक्त हो सके। 
खान मजदूर फेडरेशन के वरीय उपाध्यक्ष मोहम्मद मन्नान मल्लिक पूर्व मंत्री, श्री विजेंद्र प्रसाद सिंह सीनियर एडवोकेट, श्री चंडी बनर्जी ,श्री आर पी  शर्मा, श्री एके झा ने एक संयुक्त प्रेस व्यक्तव्य में कहा है कि भाजपा के विकसित भारत में 205 लाख करोड़ का लोन देश की जनता पर वर्ल्ड बैंक से लिए गए हैं।  सोना 73000 पार कर चुका है। गैस सिलेंडर ₹1000 पार कर चुका है। पेट्रोल डीजल ₹100 लीटर पार कर चुका है लेकिन भाजपा 400 पार का नारा लगातार लगा रही है।
    श्री झा ने कहा कि देश के 60 करोड़ नौजवान बेरोजगारी की अग्नि में जल रहा है ।पूरे देश की जनता महंगाई के मार से त्रस्त है लेकिन वर्तमान भाजपा सरकार का मुखिया बेरोजगारी का ब बोलने से घबराता है, महंगाई का म  बोलने से घबराता है। 80 करोड लोग अपने पूरे परिवार को एक शाम भोजन देने मे भी त्रस्त है। मानसिक परेशान हैं।    
    कोविड-19 के दरमियान भाजपा सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक 7.50 लाख लोग मौत के शिकार हुए जबकि विदेशी एजेंसी भारत में मौत की संख्या 50 लाख बता रही है। भाजपा के विकसित भारत में चंद पूंजीपत्तियों का 16 लाख करोड रुपए माफ कर दिए गए। कानून बनाकर टैक्स में माफी कर दी गई। भारत के बैंकों को लूटने वाले लोग सुरक्षित विदेश चले गए लेकिन देश की गरीब ,मजदूर, किसान ,पापी पेट के सवाल को लेकर युद्ध की अग्नि में जल रहे यूक्रेन और इसराइल जैसे देश में रोजगार के लिए विवशता वश जा रहे हैं।                                
   आगे उन्होंने कहा कि किसानों के आंदोलन को ब्रिटिश हुकूमत की क्रूरता को पार करते हुए कुचला गया। उसकी आवाज दबाने के लिए उन्हें गाड़ी से घसीटने का काम किया गया। उनके साथ अमावणीय व्यवहार किया गया। आजाद भारत के इतिहास में गांधी नेहरू सुभाष पटेल अंबेडकर की धरती पर किसानों को कुचला गया। सत्याग्रह की आवाज दबाई गई। 7.50 सौ किसानों ने अपनी शहादत दी लेकिन पूंजीवादी सोच की भाजपा सरकार किसानों की आवाज दबाने मे सारी ताकत लगा दी।                        
    कांग्रेस के जननायक राहुल गांधी ने दक्षिण से उत्तर और पूर्व से पश्चिम 10000 किलोमीटर की भारत यात्रा पुरी की। करोडो जनता की आवाज, उनके दर्द को सुना। उसे न्याय दिलाने के लिए जनता की भावना सोच के आधार पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के रास्ते पर चलकर भारत की जनता को कांग्रेस का न्याय पत्र सुपुर्द किया जिससे पूरी भाजपा सरकार घबराहट और बेचैनी में है।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)