वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेश को दरकिनार कर कोल ट्रांसपोर्टिंग चालू

VijaySharma
0
सिंदरी  टासरा प्रॉजेक्ट में लगातार मैनेजमेंट की लापरवाही और असहिसुनता देखी जा रही है, जाहे वो सेल की हो या केटीएमपीएल की हो।                        वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एच पी जनार्दन के आदेश को दरकिनार कर सेल प्रबंधन ने रविवार को टासरा ऑपन प्रोजेक्ट से कोल डिस्पैच कार्य करने को लेकर जनता मजदूर संघ (कुंती गुट) समर्थकों ने झरिया सिंदरी मुख्य मार्ग पर बीआईटी सिंदरी के मुख्य द्वार के समीप सोमवार को सेल प्रबंधन का पुतला दहन किया। इसको लेकर ग्रामीण महिलाएँ उग्र थीं और उनका आरोप था कि सेल प्रबंधन प्रशासन को दरकिनार कर अपनी मनमानी कर रही है। हालांकि सेल टासरा महाप्रबंधक शिबराम बनर्जी के दूरभाष पर संपर्क करने पर संपर्क नहीं हो पाया। वहीं सेल के कई अधिकारियों ने या तो फोन बंद कर दिया या फिर पल्ला झाड़ते दिखाई दिए।
इसके पहले जमसं (कुंती गुट) टासरा अध्यक्ष बिरजू सिंह ने प्रेसवार्ता कर बताया कि विगत 25 फरवरी को सिंदरी एसडीपीओ कार्यालय में धनबाद एसएसपी द्वारा एक दिन 25 वाहनों के कोल डिस्पैच के बाद ग्रामीणों के साथ वार्ता होने के बाद ही कोल डिस्पैच करने की जानकारी दी गई थी। सेल टासरा के कुछ अधिकारी टासरा प्रोजेक्ट में कार्य कर चुकी ब्लैकलिस्टेड कंपनी के समय कार्यरत कर्मचारियों के साथ मिलकर पुनः ग्रामीणों को ठगने का काम कर रही है। ग्रामीणों को डर सता रहा है कि पूर्व की कंपनी की तरह केटीएमपीएल को भी भगाकर ग्रामीणों का हक नहीं दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि उस समय भी सेल प्रबंधन के सहयोग के लिए कुछ दलाल प्रबृति ने ग्रामीणों का प्रतिनिधित्व कर रैयतों को फँसाने का काम किया था। टासरा के ग्रामीण महिलाओं ने सेल प्रबंधन की मनमानी नहीं चलेगी का आरोप लगाते हुए सेल प्रबंधन के पुतले पर जमकर रौंदा। उन्होंने कहा कि सेल प्रबंधन मनमानी से बाज नहीं आ रही है।
इसको लेकर केटीएमपीएल प्रोजेक्ट निदेशक टी रमेश ने बताया कि सिंदरी में पीएम कार्यक्रम को लेकर कुछ दिनों के लिए कोल डिस्पैच को रोका गया था। इसे पुनः रविवार से शुरू कर दिया गया है।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)