जामाडोबा रेलवे गेट को बंद करने आए कार्यपालक अभियंता को स्थानीय लोगों ने किया भारी विरोध

VijaySharma
0

जोड़ापोखर (धनबाद): आद्रा डिवीजन के  फूसबंगला जामाडोबा मुख्य सड़क में यातायात समस्या को दूर करने को लेकर जामाडोबा रेलवे क्रॉसिंग के समीप प्रायोजित आरओबी निर्माण को लेकर शनिवार को  रेलवे गेट को बंद करने आए कार्यपालक अभियंता अरुण कुमार सक्सेना को स्थानीय लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। 

लोगों की भारी विरोध व जनदबाव के चलते रेलवे की आई टीम को  फिलहाल गेट को बंद करने का योजना को स्थगित करना पड़ा । मालूम हो कि आरओबी निर्माण में झमाडा कि पाइपलाइन के आड़े आने से कार्य बंद थी।  बताते हैं कि रेलवे ने   झमाडा कि  पाइपलाइन कि समस्या के समाधान  कि पुरी जवाबदेही अपने उपर ले लेने के बाद आरओबी का कार्य शुरू करने कि कवायद तेज कर दिया  है। कार्य शुरू करने पर शनिवार को  आद्रा डिवीजन के अधिकारी एके सक्सेना ने आरपीएफ जवानों के साथ जामाडोबा रेलवे गेट को बंद करने पहुंचे ,जहां पूर्व पार्षद मनोज साव ,कांग्रेस नेता पिंटू तुरी , किशोर कुमार ,मो कलाम ,चेंबर ऑफ कॉमर्स के आरिफ सिद्ध्की ,शुभाशीष राय आदि के नेतृत्व में दर्जनो लोगों ने गेट के बगल में  वैकल्पिक सड़क देने कि मांग पर रेलवे के अधिकारी को गेट बंद करने का जमकर विरोध किया। 

लोगों कि विरोध को देख हुए अभियंता ने गेट के बगल से स्टेशन तक वैकल्पिक सड़क बनाने का स्थल का लोगों के साथ  निरीक्षण कर लोगों से वार्ता  किया। अधिकारी ने कहा कि अगले सप्ताह  लोगों के समस्या का समाधान करने पर ही वार्ता कर के ही कार्य शुरू किया जाएगा।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)