नुनुडीह खेल मैदान में बीसीकेयू ने बैठक कर बनाई आंदोलन की रणनीति

VijaySharma
0
पाथरडीह (धनबाद): नुनुडीह स्थित लाल मैदान में शनिवार को बीसीकेयू की एक बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता पूर्व विधायक व यूनियन के महामंत्री अरूप चटर्जी व संचालन यूनियन के उपाध्यक्ष सबुर गोराई ने की।

 बैठक में ग्रामीण रैयतों के जमीन पर एमडीओ द्वारा जबरन कब्जा कर ओबी डंप करने, ठेका मजदूरों को उनका हक से बंचित करने आदि समस्याओं को लेकर आगे की आंदोलन की रूप रेखा रणनीति  तैयार की गई। 

इस दौरान बैठक को सम्बोधित करते हुए यूनियन के महामंत्री व निरसा के पूर्व विधायक अरूप चटर्जी ने  बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि 11 फरवरी को बीसीसीएल एरिया 10 के ग्रामीण रैयतों के साथ सुरूँगा बस्ती में एक बैठक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि निरसा के गोपीनाथ पुर में बीसीसीएल प्रबंधन द्वारा रैयतों के जमीन को जबरन कब्जा कर ओबी डंप किया जा रहा है। उन्होंने कहा की

जिसके खिलाफ 12 फरवरी को निरसा के गोपीनाथ पुर में विशाल आम सभा किया जाएगा। जिसमें सीटू के पूर्व सांसद बंशो गोपाल,सीटू नेता व कोल फडरेशन के महासचिव डीडी रामनंदन भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि पाथरडीह जेएसडब्ल्यू मोनेट कोल वाशरी के ठेका मजदूरों का एचपीसी की दर से वेतन भुगतान करने, एचपीसी का बकाया एरियर का भुगतान करने की माँग को लेकर 16 फरवरी को बीसीकेयू मोनेट कोल वाशरी गेट पर एक दिवसीय विशाल जुलूस प्रदर्शन व धरना देगी।

 श्री चटर्जी ने कहा कि  बीसीसीएल के ईजे एरिया प्रबंधन द्वारा ग्रामीण रैयतों के जमीन पर जबरन कब्जा कर ओबी डंप किया जा रहा है। जिसके खिलाफ 19 फरवरी से चन्दन प्रोजेक्ट तीन दिवसीय जुलूस प्रदर्शन व धरना दिया जाएगा। और 22 फरवरी को ओबी परिवहन का कार्य ठप कर दिया जायेगा, जिसकी जिम्मेदारी प्रबंधन की होगी। 

मौके पर बैठक में बबलू महतो,पूर्व पार्षद बिरेंन गोराई, आर एन घोष, पार्वती देवी,सुरेश पासवान, मंटू बाउरी, गेंदु रजक, मनोज पासवान, राजकिशोर महतो, सुरेश वर्मा, शरद महतो,ईश्वर गोराई, शिव कुमार,सोनू गोराई आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)