अवैध कोयला से गुलजार धुंआ उगलते चिमनी भट्ठों पर अंकुश लगाई जाएं: -----बिरेंद्र पासवान

VijaySharma
0


धनबाद जिला में  व्यापक पैमाने पर कोयला चोरी तो बंद है,लेकिन हेराफेरी पर पूर्णविराम कतई नहीं लगा है। धनबाद के विभिन्न थाना क्षेत्रों में दर्जनों चिमनी ईंट भट्ठों की चिमनियां मजे से चोरी के कोयले से धुंआ उगल रही है। प्रत्येक ईंट भट्ठा को प्रतिदिन 7 से 10 टन कोयला चाहिए ही चाहिए। आखिर ये कोयला कहां से उन्हें प्राप्त होता है। यह एक यक्ष प्रश्न है। न तो इन्हें लिंकेज मिला है और न ये डीओ लगाते हैं। हर भट्ठे में सूर्योदय से पहले साइकिल,बाइक , पिक अप से आवश्यक कोयला गिर जाता है। ये भट्ठे लगातार सात माह तक अनवरत ईंट पकाई का काम करते हैं। प्रतिदिन न्यूनतम 7 टन की खपत मान लिया जाय तो एक माह में 200 टन से अधिक कोयला की जरूरत होती है। इस प्रकार 7 महीने में 1400 टन अवैध कोयला ये खपाते हैं। सौ भट्ठे संचालित हैं तो 1 लाख 40 हजार टन सरकारी कोयला अवैध तरीके से छाई में तब्दील हो जाता है।इसे देखने वाला कोई विभाग नहीं है। पुलिस और माइनिंग विभाग की मिलीभगत से ये परंपरा वर्षों से चली आ रही है। सिर्फ सुमन गुप्ता एसपी के कार्यकाल में इसपर विराम लगा था। लोगों को डीओ धारकों से कोयला महंगे दाम पर खरीदने को विवश होना पड़ा था। इधर नए एसएसपी एच पी जनार्दनन के योगदान के बात कोई थानेदार भट्ठा मालिकों को अवैध कोयला लेने की इजाजत नहीं दे रहा था।  इस मामले पर कांग्रेस इंटक प्रदेश सचिव सह प्रवक्ता धनबाद मेयर प्रत्याशी बिरेंद्र पासवान ने कहा कि जब से धनबाद के इधर नए एसपी  एच पी जनार्दनन ने कार्यभार संभाला है तबसे कोयला माफियाओं का काला साम्राज्य समाप्त हो गया है लगभग धनबाद में पुरी तरह से अवैध कोयले का कारोबार बंद हो चुका है परन्तु सुत्रो के माध्यम से यह जानकारी प्राप्त हो रही है कि धनबाद के कुछ भट्ठों में अवैध तरीके से कोयले की खरीदारी की जा रही है प्रशासन की आंखों में धूल झोंककर उन्होंने धनबाद एसएसपी एच पी जनार्दनन से आग्रह किया है कि जिन भट्ठों में अवैध तरीके से कोयले की खरीदारी की जा रही है उन्हें चिन्हित कर उनके उपर कानूनी कार्रवाई करें , अवैध कोयला कारोबारियों के कारण झारखण्ड सरकार ,कांग्रेस पार्टी एवं धनबाद जिला प्रशासन , माइनिंग विभाग, पर्यावरण विभाग की छवि धुमिल हो रही है।
संवाददाता जितेंद्र सिन्हा 

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)