बीसीसीएल सीएमडी ने 50 युवाओं को प्रशिक्षण के लिए बस से किया रवाना प्रशिक्षण पश्चात रोजगार मुहैया कराएगी बीसीसीएलः सीएमडी

VijaySharma
0

धनबाद: कोयला मंत्रालय के आदेश पर कौशल विकास योजना को लेकर बीसीसीएल एवं इंडो डेनिश टूल रूम के बीच हुए समझौते के बाद सोमवार को प्रशिक्षण के लिए 50 युवाओं से भरी पहली बस को धनबाद के कोयला नगर स्थित बीसीसीएल मुख्यालय से बीसीसीएल के सीएमडी समीरण दत्ता ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 

इस प्रोजेक्ट के तहत चयनित युवाओं को मोबाइल रिपेयरिंग, एसी और घरेलू उपकरण तथा हैन्डहैल्ड उत्पाद का प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार मुहैया कराया जाएगा।बीसीसीएल द्वारा धनबाद वासियों के लिए कई जन कल्याणकारी योजनाएं चलायी जा रही है। इसी कड़ी में कंपनी के सीएसआर के तहत परियोजना प्रभावित लोगों और उनके आश्रितों के लिए कौशल विकास एवं रोजगार  प्रशिक्षण के लिए विशेष पहल शुरू की गई है। जिसके तहत बीसीसीएल द्वारा इंडो डेनिश टूल रूम (आईडीटीआर) के एमएसएमई सैमसंग टेक्निकल स्कूल वाराणसी में हैन्डहैल्ड उत्पाद जैसे टेबलेट्स, मोबाईल फोन, एलईडी, एलसीडी, प्लाज्मा टीवी, होम ऐप्लाईनस में फ्रिज, एसी, माइक्रोवेब, वाशिंग मशीन आदि का प्रशिक्षण देगी। जिसके बाद उन्हें रोजगार से भी जोड़ा जाएगा।यह प्रशिक्षण कार्यक्रम विशेष रूप से पीएपी और उनके आश्रित छात्रों के लिए बीसीसीएल द्वारा प्रायोजित है।

प्रशिक्षण के दौरान छात्रों को मुफ्त भोजन और आवास की सुविधा के साथ स्टाइपेंड भी मिलेगा। बीसीसीएल के सीएमडी और डायरेक्टर पर्सनल ने बताया कि केंद्र में निर्धारित 3, 4 और 6 महीने के प्रशिक्षण कोर्स को सफलता पूर्वक पूरा करने के बाद युवाओं को रोजगार मिलने में आसानी होगी। इसके अलावा छात्र स्वरोजगार भी कर सकते हैं।उन्होंने बताया कि इस वर्ष बीसीसीएल अपने सीएसआर मद से  कुल 7 करोड़ 24 लाख रुपये खर्च कर रही है। इसी मद से धनबाद के  150 युवक-युवतियों को प्रशिक्षित कर उन्हें रोजगार मुहैया कराया जाएगा। बीसीसीएल सीएमडी समीरण दत्ता ने बताया कि अगले वर्ष इस प्रोजेक्ट के लिए करीब 18 करोड़ रुपये खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। ताकि धनबाद के ज्यादा से ज्यादा युवकों को रोजगार मुहैया कराया जा सके।इस फ्री स्किल डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत पहले चरण के लिए बस्ताकोला,लोदना एवं अन्य जगहों से  कुल 50 युवक-युवतियों के चयन किया गया है। जिन्हें सोमवार को बस से बनारस स्थित एमएसएमई सेमसंग टेक्निकल स्कूल भेजा गया। वहीं इस प्रोजेक्ट के लिए चयनित युवकों में इसको लेकर खासा उत्साह दिखा।इस कार्यक्रम को सफल बनाने में डायरेक्टर टेक्निकल संजय सिंह डायरेक्टर फाइनेंस आर  शाह, चीफ जनरल मैनेजर पर्सनल विद्युत शाह, पीआरओ उदयवीर सिंह ने अहम भूमिका निभाई।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)