शिल्प प्रदर्शन और जागरुकता कार्यक्रम प्रशिक्षण के साथ समाप्त

VijaySharma
0

सिंदरी (धनबाद): वस्त्र मंत्रालय भारत सरकार अंतर्गत विकास आयुक्त, हस्तशिल्प  देवघर द्वारा आयोजित तीन दिवसीय शिल्प प्रदर्शन एवं जागरुकता कार्यक्रम डीएवी पब्लिक स्कूल में हस्तशिल्पियों के प्रशिक्षण के साथ समाप्त हुआ।

इस कार्यक्रम में झारखंड के ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुदृढ भूमिका निभाने वाले बांस शिल्प, आर्टिस्टिक टेक्सटाइल, सोहराय लोकचित्र कला,अप्लिक और हेंड एम्ब्रोइडरी बनाने का प्रशिक्षण दिया गया। इस दौरान छात्रों ने हस्तशिल्प माडल बनाने की कला भी सिखी।

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में मदर टेरेसा उच्च विद्यालय और उत्क्रमित मध्य विद्यालय रांगामाटी के छात्र छात्राओ ने भी भाग लिया ।

कार्यक्रम में सीओ झरिया राम सुमन प्रसाद ,पीके राय मेमोरियल कॉलेज धनबाद के डाॅ. मंतोष पांडेय, बीडीओ बलियापुर राजेश सिंहा ने भी भाग लिया।सीओ राम सुमन प्रसाद ने कहा कि आज की नई शिक्षा नीति में स्वरोजगार के लिए इस तरह का प्रशिक्षण आवश्यक है ।

प्राचार्य आशुतोष कुमार ने कहा कि बच्चों का सर्वांगीण विकास के लिए किताबी ज्ञान से हटकर यह प्रशिक्षण उनको स्वावलंबी बनाने में मददगार साबित होगा। 
कार्यक्रम में कुल 500 से अधिक छात्र छात्राओ ने भाग लिया।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)