झरिया में व्याप्त वायु प्रदूषण एवं जनमानस पर दुष्प्रभाव पर हुआ मंथन

VijaySharma
0

झरिया (धनबाद): कोयलांचल झरिया में व्याप्त जानलेवा वायु प्रदूषण विषय पर रविवार को प्रेस क्लब में मंथन कार्यक्रम का आयोजन किया गया । मुख्य अतिथि के रूप में जमशेदपुर के विधायक सह दामोदर बचाओ आंदोलन के प्रणेता,पर्यावरणविद सरयू राय उपस्थित थे । कार्यक्रम में झरिया के चारों ओर से आउटसोर्सिंग में मानक के विरुद्ध हो रहे खनन के कारण उत्पन्न वायु प्रदूषण एवं उसका जनमानस के स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव पर विस्तृत चर्चा हुई ।कार्यक्रम का संचालन ग्रीन लाइफ झरिया के संयोजक डॉ. मनोज सिंह ने किया,  धन्यवाद ज्ञापन यूथ कॉन्सेप्ट के संयोजक अखलाक अहमद द्वारा किया गया ।
प्रेस क्लब सभागार में सामाजिक संस्था ग्रीन लाइफ और यूथ कॉन्सेप्ट के संयुक्त नेतृत्व में झरिया में वयाप्त वायु प्रदूषण विषय पर मंथन नामक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से जमशेदपुर पश्चिमी के विधायक सरयू रॉय, पूर्व बियाडा अध्यक्ष सह समाजसेवी बिजय झा, झरिया विधायक प्रतिनिधि केडी पांडेय ने मुख्य रूप से शिरकत की।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सबसे पहले विधायक सरयू रॉय ने पिछले दिनों दोनों संस्थाओं द्वारा रन फ़ॉर क्लीन एयर कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए पीठ थपथपाया। इसके बाद उन्होंने कहा कि प्रदूषण की समस्या को लेकर अब यहां के लोग जागरूक हो गए हैं। अब हमें संबंधित पदाधिकारियों को संवैधानिक तरीके से घेरने की आवश्यकता है। उन्होंने कार्यक्रम में बैठे प्रबुद्ध नागरिकों से कहा कि अब सबसे पहले आप एक एक चीज को परिभाषित कीजिये के किन किन कारणों से प्रदूषण हो रहा है। अगर ओबी से प्रदूषण हो रहा है तो इसकी जिम्मेवारी बीसीसीएल पर डालनी होगी। अगर पर्यावरण मंजूरी के लिए यहां के उपायुक्त और एसडीओ की जिम्मेवारी तय करनी होगी। आप उन्हें अपने क्षेत्र में प्रदूषण फैलाने वाले के खिलाफ कारवाई के लिए नोटिस दीजिये अगर 60 दिन के अंदर कारवाई नहीं होती है तो 61वें दिन आपलोग सीजेएम कोर्ट में उनके खिलाफ क्रिमिनल कंप्लेन फ़ाइल कीजिए कि साहब आपने 60 दिनों में इनपर कोई कारवाई नहीं कि। जब ऐसा 10/15 स्थानों से अलग अलग लोग करेंगे तो उन अधिकारियों को कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने बढ़ जाएंगे, संविधान ने हमे यह अधिकार दिया है।आगे उन्होंने कहा कि आज ही मैंने यहां के उपायुक्त से भी दूरभाष ओर इस मुद्दे पर बात की है और कहा है कि यहां जिस तरह का उत्पात हो रहा है अब लोगों के पास क्या चारा है लोग अब कानून का सहारा लेंगे। उन्होंने कहा कि इसी तरह से बीसीसीएल पर भी नकेल कसा जा सकता है। हमलोगों की समस्या आउटसोर्सिंग कंपनियां नहीं बल्कि बीसीसीएल है जो उन्हें एनवायरनमेंट क्लियरेंस मुहैया कराता है। उन्होंने कहा कि सिर्फ धनबाद ही नहीं राज्य के सात जिलों में वायु प्रदूषन कम करने के किये पैसा आया है वे कहां खर्च हो रहे हैं यह जिला प्रशासन से पूछने का हक हमारा है। राज्य में कहीं भी वायु प्रदूषण मापने के लिए रियल टाइम मशीन नहीं है जो सीधा केंद्र सरकार के प्रदूषण बोर्ड से जुड़ी हो इसका नतीजा यह है कि हामरे राज्य के किसी भी जिले में प्रदूषण का नक्शा केंद्र के पास नहीं है।झरिया विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह के प्रतिनिधि केडी पांडेय ने कहा कि झरिया चारों ओर से आउटसोर्सिंग कंपनियों से घिरा हुआ है। यहां की प्रदूषन के मुद्दे पर जब भी हमलोग बात किये तो हमेशा कहा गया कि स्प्रिंकलर मशीन आ रही है,खरीद लिए हैं इससे सड़कों पर पानी का छिड़काव होगा, सड़कों से धूलकण उठाएंगे। पर मशीनें नहीं आईं। इधर कुछ दिन पहले राजापुर में मशीन आयी भी तो वह ब्रेक डाउन होकर पड़ा हुआ है। कहा कि आज हमलोग यहां आगे के आंदोलन की रणनीति को लेकर मंथन करने बैठे हैं हमारे अभिभावक स्वरूप सरयू रॉय जी हमे जो भी दिशानिर्देश देंगे उसके अनुरूप हमलोग लड़ाई को आगे ले जाएंगे और उसमें पूरा समर्थन करेंगे।पूर्व वियाडा अध्यक्ष विजय कुमार झा ने कहा कि  झरिया ही नही बल्कि कोयलांचल के लोग वायु प्रदूषण से त्रस्त हैं । यदि झरिया में वायु प्रदूषण ज्यादा बढ़ है तो धनबाद, कतरास, बलियापुर सिंदरी सहित सभी क्षेत्रों के लोग प्रभावित होंगे अतः सभी को साथ मिलकर लड़ाई लड़नी होगी । 
 बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष राधेश्याम गोस्वामी ने कहा कि बीसीसीएल द्वारा मानक के विरुद्ध खनन से उत्त्पन्न वायु प्रदूषण के कारण स्थानीय निवासियों का असमय मृत्यु दर बढ़ गया है अतः कंपनी पर हत्या का मुकदमा दर्ज होनी चाहिए । उन्होंने कहा कि झरिया के लोगों को प्रदूषण से निजात हेतु जोरदार लड़ाई लड़ने की जरूरत है ।शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. नरेश प्रसाद ने कहा कि झरिया में व्याप्त वायु प्रदूषण का दुष्प्रभाव छोटे बच्चों पर पड़ रहा है । यहाँ के लोगों का रोग प्रतिरोधक क्षमता का ह्रास हो रहा है एवं अनजाने बीमारियों के शिकार हो रहे हैं ।शिवबालक पासवान ने कहा कि यह लड़ाई अंजाम तक जाएगा । कार्यक्रम में दामोदर बचाव आंदोलन के प्रणेता पर्यावरणविद विधायक सरयू राय, पूर्व वियाडा अध्यक्ष विजय कुमार झा, झरिया विधायक प्रतिनिधि केडी पाण्डेय, पूर्व बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राधेश्याम गोस्वामी, उदय कुमार सिंह, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ नरेश प्रसाद, ए के सिंह,बलदेव पाण्डेय, शिवबालक पासवान,गौतम मंडल,पार्षद सुमन अग्रवाल,अरुण राय,मुकेश कुमार सिंह,पार्षद जय कुमार,जगदीश गुप्ता,बृज बिहारी सिंह,बिनय सिंह सतीश गुप्ता,अरुण साव,किसान विकास ट्रस्ट के मगधेश कुमार,पार्षद दिलीप आडवाणी,मनोज सिंह,  अशोक पाण्डेय, परमेश्वर स्वर्णकार, डॉ. एस हैदर,शिवचरण शर्मा,जान अधिकार मंच के रंजीत कुमार,प्रदीप सिंह,सौरभ शर्मा, बिनोद शर्मा,झूलन सिंह,बिनोद अग्रवाल, बिरजू साव, प्रेस क्लब के बंटी जयसवाल,मो इक़बाल, अशफाक हुसैन,राजीव शुक्ला, गिरिजा प्रसाद,सत्यदेव पाण्डेय,दीपक तुलस्यान,मुमताज,श्याम बिहारी सिंहसौरेश चंद्र सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे ।
संवाददाता जितेंद्र सिन्हा
धनबाद

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)