रंगदारी मांगने के विरोध में आईएमए ने तीन दिनों के लिए हड़ताल पर जाने का लिया निर्णय

VijaySharma
0

धनबाद : आईएमए ने आगामी 30 दिसम्बर से प्रस्तावित अनिश्चित कालीन हड़ताल को वापस लेने के साथ इसे अगले तीन दिनों के लिए हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। आईएमए ने गैंगेस्टर प्रिंस खान के गुर्गों के द्वारा सर्वमङ्गला नर्सिंग होम संचालक से एक कड़ोड की रंगदारी मांगने के मामले में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का अल्टीमेटम दिया था।

हड़ताल के दौरान ओपीडी और इमरजेंसी दोनो सुविधाएं बन्द रहेगी।धनबाद एसएसपी के तबादले के बाद महज तीन दिनों के लिए हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। प्रेस वार्ता में मीडिया से बात करते हुए डॉक्टर आईएमए
झारखंड के अध्यक्ष डॉ. एके सिंह एवं धनबाद आईएम ए अध्यक्ष डॉ. मेजर चंदन ने बताया कि पूरे राज्य में कहीं भी चिकित्सक सुरक्षित नहीं है, ऐसे में महज तीन दिनों का फिलहाल हड़ताल किया जाएगा। हड़ताल के दौरान आपातकालीन एवं ओपीडी दोनों ही सेवाएं बाधित रखेंगे। किसी भी निजी अस्पताल में कोई सर्जरी नहीं होगी जो पुराने मरीज है उनका इलाज चलता रहेगा अगर आवश्यकता हुई तो आईएमए झारखंड से विचार विमर्श करके इस हड़ताल को पूरे राज्य में विस्तारित किया जाएगा। 

वही झारखंड के अध्यक्ष डॉ. एके सिंह ने भी अपनी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त किया और कहा की अब तक प्राथमिकी भी दर्ज नहीं किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है ,सरकार से मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग भी की गई है ,बावजूद अब तक लागू नहीं किए गए हैं, आने वाले समय में चरणबद्ध आंदोलन की तैयारी की जाएगी।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)