श्रीराम जानकी विवाह के अवसर पर अयोध्या से लाए गए कलश और अक्षत सिंदरी के आठ मंदिरों मे पूजन के लिए रखा

VijaySharma
0


सिंदरी (धनबाद): श्रीराम जानकी विवाह के अवसर पर अयोध्या से कलश और अक्षत का सिंदरी में आगमन हुआ है। विश्व हिंदू परिषद के निर्णय के अनुसार कलश और अक्षत सिंदरी के आठ मंदिरों में पूजा के लिए रखा गया है। वहीं शहरपुरा शिव मंदिर, रोहडाबांध दूर्गा मंदिर,जय माता दी मंदिर  रांगामाटी, दूर्गा मंदिर गौशाला,शिव मंदिर डोमगढ, दूर्गा मंदिर कांडरा,शिव मंदिर रांगामाटी और शिव मंदिर मनोहरटांड मे कलश और अक्षत श्रद्धालुओं के पूजन और दर्शनार्थ रखा गया है।पतंजली परिवार के उमाशंकर सिंह ने बताया कि 1 जनवरी से 15 जनवरी तक सिंदरी के घर घर में अक्षत बांट कर श्रीराम मंदिर स्थापना और उद्घाटन महोत्सव में भाग लेने के लिए निमंत्रण देंगे ।
रोहडाबांध दूर्गा उत्सव समिति के महासचिव शैलेंद्र द्विवेदी ,रविंद्र प्रसाद  उमाशंकर सिंह, राजेश बाउरी, सुनील सामंत ने कलश और अक्षत का पूजन किया। शिव मंदिर शहरपुरा के अध्यक्ष दिनेश सिंह ने बताया कि अयोध्या से लाए गए कलश और अक्षत की पूजा के लिए काफी संख्या में श्रद्धालु जुट रहे हैं।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)