ईसीआरकेयू का तृतीय त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न

VijaySharma
0



धनबादः ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन का तृतीय त्रैवार्षिक अधिवेशन पटना के पीपुल्स कोऑपरेटिव सोसाइटी सभागार में 10 दिसम्बर को सौहार्दपूर्ण वातावरण में सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ। अधिवेशन के कार्यक्रम का प्रारंभ यूनियन के झंडोत्तोलन तथा शहीद वेदी पर पुष्पांजलि अर्पित करने के साथ किया गया। सभागार में सेशन के पहले केन्द्रीय पदाधिकारियों द्वारा विधिवत दीप प्रज्ज्वलित और श्रीमती ऊषा सिंह द्वारा स्वागत गान गाकर हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में ऑल इंडिया रेलवेमेंस फेडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा का स्वागत ईसीआरकेयू के अध्यक्ष डीके पाण्डेय तथ महामंत्री एसएनपी श्रीवास्तव द्वारा उन्हें पुष्पगुच्छ व मोमेन्टो देकर तथा शॉल ओढ़ाकर किया गया।इसके बाद ईसीआरकेयू के पटना शाखा द्वारा केन्द्रीय पदाधिकारियों को पुष्पहार पहनाकर स्वागत किया गया। अधिवेशन का संचालन मो ज़्याऊद्दीन द्वारा तथा अध्यक्षता डीके पाण्डेय ने किया।फेडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा ने अपने उद्घाटन संबोधन में बताया कि केन्द्र सरकार की मनसा पुराने पेंशन नीति की बहाली नहीं है, बल्कि वे नये पेंशन में ही सुधार करना चाहते हैं। 10 अगस्त को दिल्ली के रामलीला मैदान में पुरानी पेंशन बहाली के हुई अद्वितीय प्रदर्शन किया गया। फेडरेशन के आह्वान पर सभी जोनल संगठनों ने पुराने पेंशन बहाली की मांग के लिए हड़ताल पर जाने के लिए 21-22 नवंबर को हुए मतदान में 98 % रेलकर्मियों ने सहमति दी है। 12 दिसम्बर को फेडरेशन पुराने पेंशन बहाली के लिए बने संयुक्त फोरम की बैठक बुलाई है ,जिसमें हड़ताल की तिथि की घोषणा की जाएगी। श्री मिश्रा ने कहा कि अब पुराने पेंशन की बहाली राष्ट्रीय स्तर पर राजनैतिक मुद्दा बन चुका है। लेकिन हमारे संगठन के लिए यह राजनैतिक मुद्दा नहीं बल्कि हमारे बुढ़ापा कैसे कटेगा यह समस्या का समाधान करने की चिंता है। आज 9 लाख से अधिक रेलकर्मी नये पेंशन के अधीन आ चुके हैं। इन युवा कर्मियों का ऊर्जावान के साथ लेकर इस लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाएंगे। हमारे संगठन ने 1974 में अपनी मांगों को लेकर तबकी शक्तिशाली इंदिरा सरकार से टकराने का काम किया है और 1977 में जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में उस मजदूर विरोधी सरकार को उखाड़ फेंकने काम किया था।आज भी हमारा संकल्प है कि पुराने पेंशन प्राप्ति के रास्ते में आने वाले हर बाधा को मिटा देंगे।आज अपने इतिहास की कहानियों को दुहराने का समय नहीं है, बल्कि आज एक नया इतिहास बनाने का समय आ गया है।
अधिवेशन में नये केन्द्रीय पदाधिकारियों के नामों की घोषणा की गई, जिनके नामों की घोषणा महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा ने किया अध्यक्ष-डी के पाण्डेय,कार्यकारी अध्यक्ष-एसएसडी मिश्रा,एस सी त्रिवेदी,उपाध्यक्ष-बी पी यादव,एस के पाण्डेय,केदार प्रसाद,श्रीमती मृदुला कुमारी,मनोज कुमार पाण्डेय, महामंत्री-एस एन पी श्रीवास्तव,अपर महामंत्री-मो ज़्याऊद्दीन ,सहायक महामंत्री-ओमप्रकाश, मनीष कुमार,केके मिश्रा,बीबी पासवान,केन्द्रीय संगठन मंत्री-बिन्दु कुमार,नेताजी सुभाष,सोमेन दत्ता,श्रीराम सिंह,मनोज कुमार,सुर्य भूषण मिश्रा, बबलू कुमार,कोषाध्यक्ष - मिथिलेश कुमार।
उपरोक्त जानकारी देते हुए ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के मीडिया प्रभारी एन के खावस चुने हुए सभी केंद्रीय पदाधिकारी को बधाई दी।
कार्यक्रम में महामंत्री एसएनपी श्रीवास्तव ने सदन में अपने संबोधन के साथ प्रतिवेदन तथा लेखा जोखा रखा। इसके बाद दस महत्वपूर्ण प्रस्ताव रखे गए ,जिसपर चर्चा के बाद सदन ने करतल ध्वनि के साथ सर्वसम्मति से पारित किया। इस त्रैवार्षिक अधिवेशन में ईसीआरकेयू की सभी शाखाओं के सचिव,केन्द्रीय परिषद सदस्य,डेलिगेट प्रतिनिधि तथा नामांकित प्रतिनिधियों ने पूरे उत्साह के साथ अपना योगदान दिया।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)