28 को सहायक अध्यापक करेंगे मुख्यमंत्री आवास का घेराव

VijaySharma
0



धनबाद : झारखंड सहायक अध्यापक संघर्ष मोर्चा आगामी 28 दिसंबर को रांची में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की आवास को जाम करके रोषपूर्ण प्रदर्शन करेंगे। यह निर्णय रविवार को मोर्चा की आज बड़ा जमुआ  मैदान बरवड्डा में हुई बैठक में ली गई। बैठक की अध्यक्षता नीलांबर जी एवं संचालन नवीन चंद्र सिंह व राजीव सिंह ने संयुक्त रूप से किया।
बैठक में मोर्चा राज्य कई सदस्य निरंजन कुमार दे व सुशील कुमार पांडेय भी मुख्य रूप से उपस्थित थें।उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य की हेमंत सरकार सहायक अध्यापक अध्यापिका के साथ दोहरी नीति अपना रहे हैं। राज्य के 62000 सहायक अध्यापक अध्यापिकाओं का मानसिक एवं शारीरिक  शोषण यह सरकार कर रही है।विद्यालय में बिना टीईटी एवं अन्यथा परीक्षा का शिक्षकों की नियुक्ति का 9300 -34800 रुपए का वेतनमान दिया जा रहा है, जबकि पुराने 20 वर्षों से सेवारत टीईटी, सीटीईटी एवं आकलन परीक्षा उत्तर सहायक अध्यापकों को वेतन देने में सरकार एवं अधिकारियों को कानूनी एवं तकनीकी परेशानी हो रही है। यह सरकार की गंदी मानसिकता और दोहरे चरित्र को प्रमाणित करता है। हेमंत सरकार के द्वारा 2019 में विपक्ष के नेताओं के तौर पर झारखंड के पारा शिक्षकों से महागठबंधन की सरकार बनने के बाद 3 महीने के भीतर वेतन देने का वादा किया था। किंतु सरकार के 4 वर्ष बीतने को है, उक्त वादा अब तक पूरा नहीं हुआ। ऐसे में इस मामले को लेकर वह 19 दिसंबर को विधानसभा का घेराव करेंगे। उसके बाद भी सरकार की नींद नहीं खुली तो आगामी 28 दिसंबर को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के रांची स्थित आवास को जानकर अनिश्चितकालीन घेराव शुरू करेंगे।बैठक में धनबाद के जिला प्रतिनिधि नरेश महतो,अभिराम मुर्मू , संतोष कुमार,अनिल राजवंशी,संजय कुमार, नंदलाल महतो, नंदकिशोर महतो,मंजूर आलम,ताहिर अंसारी, नारायण दत्त,मोहन कुंभकार,राजीव सिंह , कमलेश साहू,लोचन साहू,श्याम सुंदर गोस्वामी,आनंदपुरी तथा ललित चौधरी आदि शामिल थें।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)