आयुर्वेद ने 15 दिन में कर दिखाया कारनामा, जहां 15 बार ऑपरेशन हुआ फेल

VijaySharma
0



वृंदावन। पुरातन चिकित्सा पद्धति हमेशा से सर्वोत्तम सिद्ध हुई है आयुर्वेद का अपने अविस्वसनीय रिजल्ट के कारण विश्व में कई बार डंका बज चुका है अब देशी ही नहीं विदेशी भी आयुर्वेद को सर्वाेपरि मानने लगे हैं। ऐसे में सुनरख मार्ग स्थित एमआरसी आयुर्वेद रिसर्च सेंटर में डा. अभिषेक शर्मा भी आयुर्वेद में कुछ नया करते हैं। उन्होंने ऐसे मरीज में आयुर्वेद द्वारा उपचार करके ऐसा कारनामा कर दिखाया है जो पिछले 8 वर्षो से पेट से आने वाली पस से परेशान थी ।

होडल हरियाणा निवासी चंद्रावती (65 वर्ष) पत्नी माधव के अनुसार करीब 8 वर्ष पूर्व उनका पित्त की थैली का ऑपरेशन होने के बाद पेट में से पस आना चालू हो गया और बार-बार इंफेक्शन होता रहा। बड़े-बड़े अस्पतालों में 15 ऑपरेशन कराने व लाखों रुपए खर्च के बावजूद परेशानी का निदान नहीं हुआ। मरीज इतनी परेशान हो गई थी कि कई बार सुसाइट करने की सोच चुकी थी उसका मनोबल पूर्णतः टूट चुका था फिर कुछ दिन पूर्व  उनके एक परिचित द्वारा एमआरसी आयुर्वेद रिसर्च सेंटर में इलाज कराने की सलाह देने पर वह  डा. अभिषेक शर्मा से मिलीं और अपनी बीमारी के बारे में बताया। डा. शर्मा ने महिला का क्षार सूत्र चिकित्सा पद्धति के द्वारा इलाज किया और 15 दिन में ही पस आना पूर्णत बंद हो गया । 
डॉ अभिषेक शर्मा ने बताया कि आयुर्वेद चिकित्सा सर्वोत्तम चिकित्सा है यह गंभीर से गंभीर रोगों को जड़ से समाप्त कर देती है mrc आयुर्वेद में हमेशा से ऐसे लोगों का इलाज होता रहा है जो की अन्य चिकित्सा पद्धति में इलाज कराकर थक चुके थे इसीलिए आज भारत के कोने-कोने से mrc आयुर्वेद में मरीज आते हैं और पूर्णता स्वस्थ होकर जाते हैं
आपको बताते चलें कि डॉ अभिषेक शर्मा को हाल ही में दिल्ली के 7 सितारा होटल में रियल लाइफ हीरो अवार्ड से नवाजा भी गया था वह अब तक कहीं रिकॉर्ड भी बन चुके हैं।
रिपोर्ट आशुतोष शर्मा

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)