संस्कृति के माध्यम से कुडमि जनजाति समुदाय पुन:आदिवासी सूची में सूचीबद्ध की मांग करती है----- सदानंद महतो

VijaySharma
0
बरवाअड्डा/ बगोदर  रविवार को बृहद झाडखंड कला संस्कृति मंच धनबाद की ओर से पूर्व घोषित कार्यक्रम डरे सोहराय जीटी रोड लेन बरवाअड्डा से बगोदर  तक आयोजित की गई । जिसमें 81 कुस्ती,81अखाडा, 81किलोमीटर तक मनाया गया।तोपचांची के मानटाड तोपचांची सुभाष चौक,अमलखोरी,सिहडह मोड, पावापुर,मदैयडीह,कंडेड़ीह मोड में सभी ग्रामीण ढोल,मांदर सोहराय के टीम के साथ अपने संस्कृति नाच गान किया गया।इस अवसर पर सदानंद महतो ने कहा कि झारखंड की संस्कृति अद्भुत है।झारखंड के लोग प्रकृति पूजक है,संस्कृति के माध्यम से कुडमि जनजाति समुदाय पुनःसूचीबद्ध की मांग कर रही है।इस अवसर पर गिरधारी महतो,महादेव महतो, ओमप्रकाश महतो,फरकेशर महतो,सुरेश महतो,तुलसी महतो सहदेव महतो,विवेक महतो विनोद महतो आदि लोग सक्रिय थे।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)