26 नवंबर को अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा भारत का महा सम्मेलन

VijaySharma
0
निरसा  अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा भारत के राष्ट्रीय कार्यकारिणी अध्यक्ष श्रीरूद्रस्वामी कर्णसिंह सूर्यवंशी ने राष्ट्रीय हित में एकता संप्रभुता वह अखंडता की रक्षा करने की क्षात्र धर्म के अनुरूप आचरण व कार्य करने का संकल्प लेते हुए समस्त सम्माननीय भारतवर्ष के क्षत्रिय समाज को भी क्षात्र धर्म के अनुरूप आचरण व कार्य करने व संकल्पित होने की आवश्यकता पर जोर दिया और कहा कि हमारा गौरवशाली इतिहास है इससे प्रेरणा लेने की आवश्यकता है।                 इसके अलावा राष्ट्रीय कार्यकारिणी अध्यक्ष श्रीरूद्रस्वामी कर्णसिंह सूर्यवंशी ने समस्त क्षत्रियगणों क्षत्रिय समाज से अपील की आगामी 26 नवम्बर को उत्तर प्रदेश गाजीपुर जिले में अवस्थित एशिया के सबसे बड़े गाँव एवं पवित्र कामाख्या धाम क्षेत्र "करहिया गहमर" में अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा भारत के द्वारा क्षत्रियत्व सशक्तिकरण,पुनर्जागरण एवं एकजुटता हेतु भव्य क्षत्रिय महासम्मेलन आयोजित होने जा रहा है जिसमें समस्त भारतवर्ष के लाखों करोड़ों क्षत्रिय आमंत्रित हैं, समस्त सम्माननीय क्षत्रियगणों से अनुरोध है कि कृपया आकर इस क्षत्रिय महासम्मेलन के भव्य कार्यक्रम को ऐतिहासिक रूप से सफल बनाये l उद्बोधन "श्रीरूद्रस्वामी"कर्णसिंह सूर्यवंशी अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा भारत के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष ने किया

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)