जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न

VijaySharma
0
धनबाद  गुरुवार को उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री वरुण रंजन की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गई।बैठक के दौरान जिला सड़क सुरक्षा समिति की विगत बैठक में दिए गए निर्देश के आलोक में की गई कार्रवाई से संबंधित प्रतिवेदन की समीक्षा की गई।साथ ही पिछले महीनों धनबाद जिला अंतर्गत हुई दुर्घटनाओं से संबंधित समीक्षा की गई।इस दौरान उपायुक्त श्री वरुण रंजन ने पिछले महीने हुई दुर्घटनाओं के लोकेशन एवं कारणों की समीक्षा करते हुए रिपोर्ट करने हेतु समिति को निर्देशित किया।उन्होंने कहा कि सबसे पहले वैसे जगह को चिन्हित करें जहां पिछले महीने सबसे ज्यादा दुर्घटना हुई,साथ हीं यह भी समीक्षा करें की दुर्घटना किन कारणों से हुई।ताकि उन ब्लैक स्पॉट को चिन्हित किया जा सके और उनके कारणों का जानकारी हो तभी हम सभी मिलकर इन घटनाओं पर रोक लगा सकते हैं।इस दौरान ट्रैफिक डीएसपी ने बताया की शहर में प्रमुख चौक चौराहों पर गलत दिशा से आ रही ओवरलोडिंग वाहन ड्रंक एंड ड्राइव तथा रफ ड्राइव से लगातार दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। जिस पर लोगों के बीच जागरूकता एवं दंडात्मक कार्रवाई किया जाना आवश्यक है।वही रेलवे स्टेशन के पास भीड़ लगे रहने के कारण समस्या बनी रहती है,रेलवे स्टेशन से श्रमिक चौक के बीच सड़क दुर्घटना हो रही है इस पर भी कार्य करने की आवश्यकता है। साथ ही सरायढेला स्टील गेट में जाम की समस्या एवं रॉन्ग साइड ड्राइविंग के कारण लगातार समस्या उत्पन्न हो रही है।उपायुक्त ने कहा कि शहर में कई ऐसे अवैध कट है जिन्हें बंद करना आवश्यक है,साथ ही कई ऐसे क्षेत्र एवं मेजर रोड है जहां कट नहीं है। इन सभी बिंदुओं पर समीक्षा की आवश्यकता है।समिति द्वारा जल्द ही इन सभी बिंदुओं पर फील्ड में जाकर जांच की जाएगी एवं सुनिश्चित की जाएगी जहां सभी अवैध कट से उन्हें बंद किया जाएगा साथ में जहां कट की आवश्यकता होगी उसे खोला जाएगा। जहां भी ब्लैक स्पॉट होंगे या दुर्घटना संभावित क्षेत्र होंगे वैसे स्थानों पर साइन बोर्ड लगाना सुनिश्चित किया जाएगा। रॉन्ग साइड चलने वालों वाहनों पर एनफोर्समेंट ड्राइव चलाया जाएगा।बैठक के दौरान सड़को पर डिवाइडर,बैरिकेटिंग लगाने की समीक्षा की गई।उपायुक्त ने पथ निर्माण विभाग को इस कार्य के लिए एस्टिमेट बनाने हेतु निर्देशित किया। साथ ही समिति के सदस्यों को यह निर्देशित किया कि सड़क किनारे जहां थोड़ी जगह हो वैसे छोटे-छोटे स्थानों को पार्किंग हेतु चिन्हित करें। साथ ही ऐसे स्थानों को भी चिन्हित करें जहाँ मल्टी पार्किंग की व्यवस्था हो सके।शहरों में जाम से निजात पाने हेतु उपायुक्त ने ऑटो और टोटो चालकों के रूट तय करने एवं स्टॉपेज पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि ऑटो एवं टोटो संघ के प्रतिनिधि के साथ बैठक कर आपसी समन्वय स्थापित करते हुए यातायात को सुगम करने के रास्ते निकलने का प्रयास किया जाएगा।बिना हेलमेट,सीट बेल्ट,लापरवाही से वाहन चलाने,सड़कों के किनारे भारी वाहनों की पार्किंग,बिना वैध नंबर प्लेट के वाहन चलाने,स्कूल बस एवं वैन द्वारा सुरक्षा मापदंडों का पालन नहीं करने,यातायात नियमों की अवहेलना करने वाले चालकों पर कार्रवाई करने के लिए जिलेभर में नियमित सघन वाहन जांच अभियान चलाने का निर्णय लिया गया।बैठक में उपायुक्त श्री वरुण रंजन,नगर आयुक्त श्री रवि राज शर्मा,जिला परिवहन पदाधिकारी श्री राजेश कुमार सिंह,अनुमंडल पदाधिकारी श्री उदय रजक,ट्रैफिक डीएसपी श्री राजेश कुमार,पथ निर्माण विभाग,आरईओ,नेशनल हाईवे,स्टेट हाइवे ऑथोरिटी ऑफ झारखंड, स्वास्थ्य विभाग के प्रतिनिधि सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)