चापापुर कोलियरी में हुई घटना पर त्रिपक्षीय वार्ता में यूनियन प्रतिनिधियों द्वारा उठाये गए मुद्दे पर बनी सहमति

VijaySharma
0
निरसा ईसीएल मुगमा क्षेत्र के चापापुर कोलियरी में केबल लुटेरों द्वारा अपने बचाव में फेंके गए बम में ईसीएल कर्मी काशी कोइरी के पुत्र 28 वर्षीय संजीव कुमार की हुई दर्दनाक मौत के बाद पुलिस ने अंत्यपरीक्षण के लिये धनबाद एसएनएमएमसीएच भेज दिया । घटना बीती मध्य रात्रि के बाद घटी ।घटना पर दुख ब्यक्त करते हुए मुगमा क्षेत्र के महाप्रबंधक आनन्द ने यूनियन प्रतिनिधियों की एक आवश्यक बैठक क्षेत्रीय सभागार में बुलाई।बैठक में मुख्यालय के महाप्रबन्धक सुरक्षा शैलेन्द्र सिंह,सीआईएसएफ के सीओ तुषार साकरे , यूनियन के प्रतिनिधियों में लखी सोरेन,पी एन राय,अगम राम,कार्तिक दत्ता, गणेश धर,जगदीश शर्मा, कृष्णा सिंह,शशिभूषण तिवारी,परितोष राय, बिनोद सिंह,अमित मुखर्जी सामिल हुए । 
बैठक प्रारंभ के पूर्व एक मिनट का मौन रख मृतक संजीव को श्रद्धांजलि दी गई ।बैठक में मृतक को शहीद का दर्जा देने मुगमा क्षेत्र में लगातार हो रही कोयले की चोरी व लूट की घटना पर गंभीर चिंता के साथ कोलियरियों में टावर युक्त लाइट व सीसीटीवी लगाने एवं गश्तीदल का फेरा बढ़ाने जैसे मुद्दे पर त्रिपक्षोय चर्चा हुई । त्रिपक्षीय वार्ता में उक्त मुद्दे पर सहमति बनी ।ज्ञात हो की शुक्रवार की बीती रात केबल लुटेरों , पा डी2 उनने 40/50 की संख्या में कोलियरी कार्यालय के कमरे में रखा केबल को लूट लिया ।जिसकी कीमत दस लाख बताई जाती है । कालोनी निवासियों की सतर्कता से घबराकर लुटेरों ने बम का प्रयोग किया ।जिससे काशी कोइरी का पुत्र संजीव गंभीर रूप से घायल हो गया । अस्पताल ले जाने के क्रम में रास्ते मे मौत हो गई । एक दिन पूर्व भी लुटेरों ने हमला किया था और ढाई लाख का केबल लूट लिया था । कोलियरी प्रबंधक इस घटना से सबक नही लिया और घटना घट गई ।

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)